top of page
  • लेखक की तस्वीरDr. Koralla Raja Meghanadh

अनुकूलित साइनसाइटिस इलाज: एक्यूट , सबएक्यूट, क्रोनिक

अपडेट करने की तारीख: 13 मई



साइनासाइटिस को गंभीरता से नहीं लिया जाता है क्योंकि यह ज्यादातर मामलों में डॉक्टर के परामर्श के बिना ही ठीक हो जाता है। लेकिन, साइनासाइटिस एक खतरनाक बीमारी है, जिसका सही समय पर इलाज न कराने पर मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं। साइनासाइटिस के धीरे बढ़ने की प्रकृति की वजह से लोग उस पे ध्यान नहीं देते है।


साइनासाइटिस का इलाज साइनासाइटिस के हर चरण में अलग-अलग होता है। एंटीबायोटिक दवाओं के साथ साइनस संक्रमण का इलाज करने की कोशिश करते हैं। वे केवल तभी सर्जरी करते हैं जब मरीज के उपर दवा का अपेक्षित असर नहीं कर रहा होता है।


एक्यूट साइनासाइटिस के लिए उपचार

यदि बैक्टीरिया एक्यूट साइनासाइटिस का कारण बनता है, तो इसका कम से कम दस दिनों के लिए एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इलाज किया जाना चाहिए। अन्यथा, लक्षणों के कम होने के बाद इसे और पांच दिनों तक जारी रखना चाहिए।

Sinusitis treatment - acute, chronic, subacute with antibiotics and surgery साइनसाइटिस का उपचार - ऐक्यूट, क्रोनिक, सबएक्युट एंटीबायोटिक्स और सर्जरी के साथ

एक्यूट साइनासाइटिस में, साइनस में बढ़ने वाले बैक्टीरिया ग्राम पॉजिटिव बैक्टीरिया होते हैं। दवाएं, यानी एंटीबायोटिक्स जो ग्राम-पॉजिटिव बैक्टीरिया पर कार्य करती हैं, हमारी आंतों के जीवाणु वनस्पतियों के साथ छेड़ - खान कर देती है| इससे दस्त हो जाता हैं। तो इसका मुकाबला करने के लिए, डॉक्टर आमतौर पर लैक्टोबैसिलस लिखते हैं, जो हमारी आंतों के खोए हुए फ्लोरा को ठीक करने में मदद करता है।


एंटीबायोटिक दवाओं के साथ, अन्य सहायक दवाएं भी आवश्यक हैं, जैसे एलर्जी होने पर एंटीएलर्जिक दवाएं, और डीकन्जेस्टेंट्स(decongestants) जैसे ज़ाइलोमेटाज़ोलिन और ऑक्सीमेटाज़ोलिन - ओट्रिविन नेज़ल ड्रॉप्स


तो, यह एक्यूट बैक्टीरियल साइनासाइटिस के उपचार के लिए यह एक प्रोटोकॉल है।


यदि एक वायरल संक्रमण एक्यूट साइनासाइटिस का कारण बनता है, तो इसका इलाज एंटीवायरल के साथ किया जाना चाहिए।


यदि रोगी में कुछ शारीरिक विसंगतियाँ हैं, तो उपचार थोड़ा अधिक लंबा होना चाहिए। ये विसंगतियाँ क्रोनिक साइनासाइटिस की संभावना को बढ़ा सकती हैं।


एक्यूट साइनासाइटिस में, रोगी को किसी भी सर्जरी की आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि सही रूप से उपचार किया जाये तो वो असर करता है| इसके अलावा, कफ की चिपचिपाहट को कम करने के लिए भाप लेना बहुत फायदेमंद होता है, जिससे कफ आसानी से निकल जाता है। यह एक्यूट साइनासाइटिस के लिए एक उपचार है।


इसी तरह, साइनासाइटिस के लिए अन्य घरेलू उपचार एक्यूट साइनासाइटिस के मामले में रिकवरी प्रक्रिया में बहुत प्रभावी ढंग से मदद कर सकते हैं।


एक्यूट साइनासाइटिस में, डॉक्टर सीटी स्कैन तभी करते हैं, जब रोगी अपेक्षा के अनुरूप प्रतिक्रिया नहीं दे रहा हो या कोई असामान्यता हो। एक्यूट साइनासाइटिस में, आमतौर पर, लक्षण 48 घंटों के भीतर 50% तक कम हो जाते हैं। यदि लक्षण तीन दिनों के भीतर कम नहीं होते हैं, तो डॉक्टर सीटी स्कैन की सलाह देते हैं।


सबएक्यूट साइनस संक्रमण उपचार

सबएक्यूट साइनासाइटिस उपचार एक्यूट साइनासाइटिस के जैसा ही हैलेकिन यह थोड़ा लंबा है, यानी कम से कम 15 दिन, और और सावधानी से इलाज करना चाहिए।सबएक्यूट के क्रॉनिक में बदलने की संभावना हमेशा अधिक होती है। इसलिए, सबएक्यूट में, हम सीटी स्कैन, एंडोस्कोपी, आदि का उपयोग करके जांच करते हैं। यदि परिणाम एंटीबायोटिक दवाओं से अपेक्षित नहीं हैं, तो एक ईएनटी डॉक्टर तेजी से उपचार की सुविधा के लिए मामूली सर्जरी का सुझाव दे सकता है और सबएक्यूट को क्रोनिक साइनासाइटिस में बदलने से रोक सकता है।


क्रोनिक साइनसाइटिस के लिए उपचार

क्रोनिक मामलों में, साइनस में क्या चल रहा है और इस प्रकार के लम्बी साइनासाइटिस के लिए कौन से कारण जिम्मेदार हैं, यह समझने के लिए डॉक्टर सीटी स्कैन और अन्य जांच करेंगे। सभी कारणों का अध्ययन करने के बाद डॉक्टर चिकित्सा उपचार शुरू करते हैं। इस चरण के दौरान, डॉक्टर 2 सप्ताह से छह सप्ताह तक, कभी-कभी 6 महीने तक भी दवा लिखते हैं।


क्रोनिक और एक्यूट साइनासाइटिस के लिए उपयोग की जाने वाली एंटीबायोटिक्स अलग-अलग हैं। एक्यूट में बैक्टीरिया ग्राम-पॉजिटिव होते हैं, लेकिन क्रोनिक में वे ग्राम-नेगेटिव बैक्टीरिया बन जाते हैं और दवाएं उसी के अनुसार बदलना पड़ता हैं। एक्यूट से क्रोनिक संक्रमण में, ग्राम-पॉजिटिव ग्राम- नेगेटिव हो जाता है। इसलिए, उपयोग किए जाने वाले एंटीबायोटिक्स मैक्रोलाइड और सिप्रोफ्लोक्सासिन हैं। आदर्श रूप से, इन एंटीबायोटिक दवाओं को क्रोनिक साइनासाइटिस के लिए छह सप्ताह तक दिया जाना चाहिए।


यदि छह सप्ताह तक दवा देने के बावजूद कोई सुधार नहीं होता है तो सर्जरी का सुझाव दिया जा सकता है।


एक्यूट या क्रॉनिक में, हम आमतौर पर सर्जरी नहीं करते हैं। हम तेज दवा देते हैं। मान लीजिए कि उन्हें अधिक एक्यूट दौरे पड़ते रहते हैं, यानी एक्यूट ऑन क्रॉनिक। उदाहरण के तौर पर अगर किसी को 5 से 6 से ज्यादा अटैक आ रहे हैं तो उस स्थिति में हम सर्जरी के बारे में सोचते हैं।


साइनस संक्रमण के लिए घरेलू नुस्खे

हम इंफेक्शन और रोग प्रतिरोधक क्षमता के बीच उचित संतुलन बनाकर साइनस संक्रमण से लड़ सकते हैं। तो इस संतुलन को बनाए रखने के लिए हम कुछ घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल कर सकते हैं जो हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं। अच्छी प्रतिरक्षा एक्यूट साइनासाइटिस का मुकाबला कर सकती है, लेकिन जब यह क्रॉनिक हो जाती है, तो हमारी प्रतिरक्षा अकेले इससे नहीं लड़ सकती है। तो, एंटीफंगल और एंटीबायोटिक्स साइनासाइटिस से लड़ने में हमारी प्रतिरक्षा में मदद करेंगे।


साइनसाइटिस का घरेलू इलाज जानने के लिए यहां क्लिक करें


ब्लॉग लिखा है


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

साइनसाइटिस के लिए सबसे अच्छा इलाज क्या है?

साइनसाइटिस के लिए सबसे अच्छा उपचार ईएनटी डॉक्टर द्वारा सुझाए गए उपचार और घरेलू नुस्खे दोनों का उपयोग करना है।

अधिक जानकारी के लिए आप हमारा लेख "घरेलू नुस्खों से साइनोसाइटिस में राहत" पढ़ सकते हैं।


किसी भी उपचार के परिणाम साइनसाइटिस के चरण पर निर्भर करेंगे। जितनी जल्दी आप उपचार करेंगे, किसी भी उपचार के लिए उतने ही बेहतर परिणाम प्राप्त होंगे। आप उपचार के लिए जितनी देर प्रतीक्षा करेंगे, एंटीबायोटिक्स का कोर्स बढ़ेगा, और आपको सर्जरी की भी आवश्यकता पड़ सकती है। अक्युट साइनसाइटिस में, संक्रमण शुरू होने के 15 दिनों के भीतर, आपको अधिकतर किसी सर्जरी की आवश्यकता नहीं होगी।


क्या आपको साइनासाइटिस का इलाज करने की आवश्यकता है?

हालांकि यह बीमारी डॉक्टरों के हस्तक्षेप के बिना अपने आप ठीक हो सकती है, लेकिन हम जटिलताओं की संभावना के कारण ईएनटी डॉक्टर से जल्द से जल्द इलाज कराने का सुझाव देते हैं। जब भी हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है तो यह रोग बिगड़ सकता है।


क्या होगा अगर आप साइनासाइटिस का इलाज नहीं करते हैं?

ज्यादातर मामलों में, साइनासाइटिस दवा और जटिलताओं के बिना ठीक हो सकता है। लेकिन, सामान्य सर्दी जुकाम जैसी कोई भी सतही वायरल संक्रमण रोग प्रतिरोधक क्षमता को प्रभावित कर सकता है और इस प्रकार के रोग को और खराब कर सकता है और जटिलताएं आ सकते हैं। यहां तक ​​कि किसी दुर्घटना या परीक्षा का मानसिक तनाव भी इस बीमारी को बढ़ा सकता है।


क्रोनिक साइनासाइटिस जटिलताओं में अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, लैरींगाइटिस (वॉयस बॉक्स संक्रमण) और मध्य कान के संक्रमण शामिल हो सकते हैं। एक्यूटसाइनासाइटिस और "एक्यूट ऑन क्रोनिक" साइनस संक्रमण जटिलताएं बहुत दुर्लभ हैं और यह आंखों और मस्तिष्क को प्रभावित कर सकती हैं।

अधिक जानकारी के लिए कृपया साइनासाइटिस की जटिलताओं पर हमारा लेख पढ़ें।


एक्यूट स्टेज में दवा से ही इन जटिलताओं से पूरी तरह से बचा जा सकता है। बाद के चरणों में, हमें सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है।


साइनस सर्जरी की जरूरत किसे है?

साइनसाइटिस रोगी जो मुख्य रूप से उम्मीद के मुताबिक एंटीबायोटिक दवाओं का जवाब नहीं देते हैं, उन्हें साइनस सर्जरी की आवश्यकता होगी। सबएक्यूट साइनसाइटिस के मामलों में छोटी सर्जरी की जाती है ताकि इसे क्रॉनिक होने से रोका जा सके या जब किसी व्यक्ति में शारीरिक असामान्यताएं हों। ज्यादातर सर्जरी एक्यूट स्टेज में परहेज किया जाता है क्योंकि रोगी एंटीबायोटिक दवाओं के प्रति अच्छी तरह से प्रतिक्रिया करते हैं, और क्रॉनिक स्टेज में सर्जरी होने की संभावना बढ़ जाती है।


फंगल साइनसाइटिस के लिए, नॉन-इनवेसिव और फुलमिनेंट रोगियों के लिए सर्जरी की आवश्यकता होती है। निदान प्रयोजनों के लिए इनवेसिव मामलों में एक छोटी बायोप्सी की जाती है।


साइनस संक्रमण के लिए आपको डॉक्टर से कब संपर्क करना चाहिए?

साइनस संक्रमण के लिए हमें जल्द से जल्द डॉक्टर से मिलना चाहिए। सामान्य सर्दी के लिए डॉक्टर को दिखाना और समय पर निर्धारित दवा लेना बेहतर है ताकि हम साइनसाइटिस को रोक सकें।


साइनसाइटिस के लिए परामर्श और उपचार को लंबा करना इसे ठीक करने के लिए और अधिक चुनौतीपूर्ण बना सकता है। अधिक जानकारी के लिए ऊपर दिया गया ब्लॉग पढ़ें।


एक्यूट साइनसाइटिस के लिए सबसे अच्छा उपचार क्या हैं?

एक्यूट साइनसाइटिस के लिए सबसे अच्छा उपचार एंटीबायोटिक्स और घरेलू उपचार का संयोजन है। तीव्र साइनसाइटिस में बैक्टीरिया ग्राम-पॉजिटिव होते हैं, इसलिए डॉक्टर एंटीबायोटिक्स देते हैं जो उन पर कार्य करते हैं। ये एंटीबायोटिक्स कम से कम दस दिनों के लिए या लक्षणों के कम होने के बाद पांच अतिरिक्त दिनों के लिए निर्धारित किए जाते हैं। आमतौर पर, एक्यूट साइनसाइटिस के लिए सर्जरी आवश्यक नहीं होती है क्योंकि चिकित्सा उपचार अक्सर स्थिति का समाधान करता है। (ध्यान दें: यह उपचार केवल एक्यूट साइनसाइटिस के लिए लागू होता है, यानी संक्रमण के पहले पंद्रह दिन, सबएक्यूट या क्रोनिक साइनसाइटिस के लिए नहीं।)


साइनसाइटिस को ठीक करने का सबसे तेज़ तरीका क्या है?

घरेलू उपचार के साथ-साथ एंटीबायोटिक उपचार लेना साइनसाइटिस को ठीक करने का सबसे तेज़ तरीका है।प्रारंभिक अवस्था में, साइनसाइटिस अक्सर अपने आप ठीक हो जाता है, लेकिन इलाज न होने पर यह और भी बिगड़ सकता है। जब रिकवरी की गति की बात आती है, तो यह प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया और साइनस संक्रमण की गंभीरता जैसे व्यक्तिगत कारकों पर निर्भर करता है। साइनसाइटिस के इलाज के लिए सबसे प्रभावी तरीका डॉक्टर द्वारा दी गई एंटीबायोटिक दवाओं और कुछ घरेलू उपचारों का पालन करना है। रोगी की स्थिति के आधार पर कुछ अतिरिक्त सहायक दवाएं, जैसे कि एंटी-एलर्जिक दवाएं दी जा सकती हैं।


कुछ मामलों में, कई संरचनात्मक विसंगतियों के कारण या साइनस में गंभीर संक्रमण या साइनसाइटिस से गंभीर जटिलता के कारण रोगियों की एक छोटी संख्या साइनसाइटिस के लिए एंटीबायोटिक दवा से सकारात्मक परिणाम का अनुभव नहीं कर सकती है। ऐसी स्थिति में साइनोसाइटिस का ऑपरेशन करना पड़ सकता है। सर्जरी के साथ आगे बढ़ने का निर्णय एक ईएनटी डॉक्टर द्वारा कई कारकों पर विचार करने के बाद किया जाता है।

74 दृश्य0 टिप्पणी

संबंधित पोस्ट

सभी देखें

Comentarios


bottom of page